रोहिणी कोर्ट शूटआउट के बाद तिहाड़ में गैगवार की आशंका, हाई अलर्ट पर जेल के अधिकारी

September 25, 2021

रोहिणी कोर्ट में गोलीबारी की घटना के बाद यहां उच्च सुरक्षा जेल में बंद कई दुश्मन आपराधिक गिरोह के सदस्यों के बीच झड़प की आशंका के बीच तिहाड़ जेल के अधिकारी हाई अलर्ट पर हैं।

तिहाड़ के महानिदेशक संदीप गोयल ने शनिवार को आईएएनएस को बताया, "शुक्रवार को कोर्ट में हुई गोलीबारी के बाद से हम पहले के मुकाबले अधिक सावधानी बरत रहे हैं।"

अगस्त में जेल के अंदर से हिंसक घटनाओं की सूचना मिलने के बाद से तिहाड़, दक्षिण एशिया का सबसे बड़ा जेल परिसर सीसीटीवी कैमरे लगाकर अपनी सुरक्षा कड़ी करने पर काम कर रहा है।

शुक्रवार को दिल्ली के शीर्ष गैंगस्टर जितेंद्र सिंह मान उर्फ गोगी की अदालत कक्ष में प्रतिद्वंद्वी टिल्लू गिरोह के दो हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी, जो वकीलों के वेश में थे। घटना कोर्ट रूम के अंदर हुई, जहां उनके खिलाफ मामले की सुनवाई चल रही थी।

बाद में पुलिस ने दो हमलावरों को मार गिराया। हालांकि, इस घटना से अदालत कक्ष में अफरा-तफरी मच गई, जहां न्यायाधीश ने कार्यवाही शुरू की थी। फायरिंग में एक महिला वकील के घायल होने की खबर है।

एक प्रत्यक्षदर्शी ने कहा कि पुलिस और हमलावरों के बीच कम से कम 30-35 राउंड फायरिंग हुई।

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने गोलीबारी की जांच अपने हाथ में ले ली है। पुलिस आयुक्त राकेश अस्थाना ने शुक्रवार को आईएएनएस को बताया, "अपराध शाखा और दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल अब उस घटना की जांच करेगा, जो बिना उचित योजना के संभव नहीं हो सकती थी।"

उन्होंने यह भी कहा कि पुलिस बल राष्ट्रीय राजधानी में किसी भी संगठित आपराधिक गतिविधि के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए प्रतिबद्ध है। ऐसे मामलों में पूरी जांच और उचित कानूनी कार्रवाई का आश्वासन देते हैं।

शनिवार को बार काउंसिल ऑफ दिल्ली के चेयरमैन राकेश शेरावत ने अन्य अधिकारियों के साथ दिल्ली कोर्ट परिसर में सुरक्षा पर चर्चा और समीक्षा करने के लिए अस्थाना से मुलाकात की। आयुक्त ने आश्वासन दिया है कि अदालतों का नए सिरे से सुरक्षा ऑडिट होगा।
 


आईएएनएस
नई दिल्ली

 
News In Pics