दुष्यंत गौतम ने कहा, सिद्धू प्रकरण की पटकथा पहले से ही लिखी थी, पंजाब सीएम को दे देना चाहिए इस्तीफा

October 16, 2021

नवजोत सिंह सिद्धू के पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष बने रहने के पार्टी आलाकमान के फैसले पर प्रतिक्रिया देते हुए भाजपा ने कहा है कि यह पटकथा पहले से ही लिखी हुई थी। यह दलितों का अपमान है। राज्य के हालात को देखते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी को अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए।

नवजोत सिंह सिद्धू घटनाक्रम पर आईएएनएस से बातचीत करते हुए भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव और पंजाब के प्रभारी दुष्यंत गौतम ने कहा कि दलित मुख्यमंत्री का अपमान करना कांग्रेस की पुरानी आदत है। सिद्धू घटनाक्रम की पटकथा पहले से लिखी होने का दावा करते हुए पंजाब प्रभारी ने कहा कि सिर्फ 3 महीने के लिए दलित मुख्यमंत्री बनाना और सिद्धू को आगे रखना , यह कांग्रेस ने पहले से ही तय कर रखा है। कांग्रेस दलित मुख्यमंत्री को हटा कर भविष्य में सिद्धू को ही मुख्यमंत्री बनाना चाहती है।

दुष्यंत गौतम ने आरोप लगाते हुए आईएएनएस से कहा कि प्रशासन और सरकार चलाना पंजाब के सीएम के वश की बात नहीं है । वे सिर्फ प्रियंका और राहुल गांधी को खुश करने में लगे रहते हैं । गौतम ने तो पंजाब के मुख्यमंत्री से अपने पद से इस्तीफा देने की मांग भी कर डाली।

पार्टी के एक अन्य दिग्गज नेता ने आईएएनएस को बताया कि सिद्धू प्रकरण भाजपा के लिए फायदेमंद ही साबित होगा क्योंकि जब तक सिद्धू प्रदेश अध्यक्ष बने रहेंगे तब तक पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दे पर सिद्धू और कांग्रेस आलाकमान पर निशाना साधते रहेंगे।

अमरिंदर सिंह के इस राष्ट्रीय सुरक्षा के मसले को धार देते हुए भाजपा भी आक्रामक राष्ट्रवाद और सीमा सुरक्षा के मुद्दे पर राज्य सरकार को घेरती रहेगी। भाजपा यह मानकर चल रही है कि इस मुद्दे के सहारे उसे कांग्रेस के वोट बैंक में सेंघ लगाने में तो कामयाबी मिलेगी ही साथ ही पहली बार राज्य में अकेले चुनाव लड़ रही पार्टी को मतदाताओं के साथ अपने आप को कनेक्ट करने में भी काफी मदद मिलेगी।
 


आईएएनएस
चंडीगढ़

 
News In Pics