यूपी में बसपा अकेले लड़ेगी चुनाव : मायावती

December 1, 2021

बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्तरप्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने कहा है कि उनकी पार्टी विधानसभा चुनाव में किसी भी दल से गठबंधन नही करेंगी, बसपा अपने दमपर अकेले ही चुनाव लड़ेगी।

बसपा कार्यालय में मंगलवार को प्रेसवार्ता में बसपा सुप्रीमो ने उनकी पार्टी के किसी अन्य दल के साथ गठबंधन की अटकलों पर विराम लगाते हुए अकेले ही चुनावी समर में उतरने की घोषणा कर दी।

उन्होंने कहा कि उत्तरप्रदेश की जो सुरक्षित सीटें हैं उनपर ज्यादा ध्यान दिया जाएगा, साथ ही इन 86 सुरक्षित सीटों पर दलित व ब्राह्मणों के अलावा अब जाट और मुस्लिम को भी जोड़ने की कवायद शुरू कर दी गई है।

भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में मुसलमानों को फर्जी केस में फंसाया जा रहा है।

भाजपा मुसलमानों के साथ सौतेला व्यवहार करती है।

प्रदेश का मुसलमान भाजपा सरकार से काफी दुखी भी है उनके खिलाफ पर फर्जी केस कराए जा रहे हैं, अब तो नए-नए नियम बनाकर इनको परेशान किया जा रहा है।

बसपा प्रमुख ने प्रदेश के लोगों के साथ भाजपा पर सौतेला रवैया अपनाने का आरोप लगाया।

मायावती ने जातिगत जनगणना का समर्थन करते हुए कहा, केंद्र सरकार जातिगत जनगणना के पक्ष में नही है, जबकि हम चाहते हैं कि यह जनगणना होनी चाहिए।

उत्तरप्रदेश में बसपा की सरकार बनने के बाद हम अपनी सरकार में सभी का ध्यान रखते हुए काम करेंगे।


सहारा न्यूज ब्यूरो
लखनऊ

 
News In Pics